7th pay commission – डिफेंस और पुलिस के कर्मचारियों को होंगे ये 10 फायदे

7th pay commission – डिफेंस और पुलिस के कर्मचारियों को होंगे ये 10 फायदे

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने घोषणा कर दी है कि 1 जुलाई से सातवां वेतन आयोग (7th pay commission) लागू हो जाएगा। इसके साथ ही, सरकार ने सातवें वेतन आयोग की 34 सिफारिशों को मंजूरी दे दी है। सातवें वेतन आयोग से सभी केन्द्रीय कर्मचारियों को फायदा होगा। आइए जानते हैं सातवें वेतन आयोग में डिफेंस, सीएपीएफ, पुलिस, इंडियन कोस्ट गार्ड और सिक्योरिटी एजेंसी वालों के दिए जाने वाले अलाउंस में क्या-क्या बदला है।

राशन मनी अलाउंस मिलता रहेगा

1- सातवें वेतन आयोग (7th pay commission) में शांत इलाकों में तैनात डिफेंस के अधिकारियों को दिया जाने वाला राशन मनी अलाउंस और मुफ्त राशन को बंद करने का प्रस्ताव रखा गया था। हालांकि, मोदी सरकार ने यह फैसला किया है कि इन अधिकारियों को दी जाने वाली ये सुविधा बंद नहीं की जाएगी और इसे लागू रखा जाएगा। राशन मनी अलाउंस को सीधे उनके खातों में ट्रांसफर कर दिया जाएगा। इससे करीब 43,000 डिफेंस के अधिकारियों को फायदा होगा।

2- तकनीक से जुड़े डिफेंस के अधिकारियों की दिए जाने वाले टेक्निकल अलाउंस को हायर क्वालिफिकेशन इंसेटिव के साथ मिला दिया गया है।

इंडियन कोस्ट गार्ड के कर्मचारियों को

3- डिफेंस फोर्स के कर्मचारियों को दी जाने वाली अतिरिक्त मुफ्त रेलवे वारंट (लीव ट्रेवल कंसेशन) की सुविधा के दायरे को बढ़ा दिया गया है। अब यह सुविधा सीएपीएफ और इंडियन कोस्ट गार्ड के कर्मचारियों को भी दी जाएगी।

4- डिफेंस फोर्स और सीएपीएफ के कर्मचारियों को दिए जाने वाले हाई एल्टिट्यूड अलाउंस को आर & एच मैट्रिक्स के हिसाब से दिया जाएगा। जो पहले 810 रुपए – 16,800 रुपए प्रति महीना था, उसे बढ़ाकर अब 2700 रुपए – 25,000 रुपए प्रति महीना कर दिया गया है।

नौसेना के कर्मचारियों को भी होगा फायदा

5- फील्ड एरिया अलाउंस को भी अब आर & एच मैट्रिक्स के हिसाब से दिया जाएगा। जो पहले 1200 रुपए – 12,600 रुपए था, वह अब बढ़ाकर 6000 रुपए – 16,900 रुपए कर दिया गया है।

6- भारतीय नौसेना के कर्मचारियों को दिए जाने वाले सी गोइंग अलाउंस को भी आर & एच मैट्रिक्स के हिसाब से दिया जाएगा। सी गोइंग अलाउंस के लिए पहले योग्यता में जो 12 घंटे की शर्त थी, उसे घटाकर अब 4 घंटे कर दिया गया है। जो अलाउंस पहले 3000 रुपए – 7800 रुपए प्रति महीना दिया जाता था, अब वह 17,300 रुपए – 10,500 रुपए प्रति महीना दिया जाएगा।

कोबरा के लिए खास व्यवस्था

7- नक्सली एरिया में तैनात सीआरपीएफ के जवानों को दिया जाने वाला कमांडो बटालियन फॉर रिसॉल्यूट एक्शन (कोबरा) अलाउंस भी आर & एच मैट्रिक्स के हिसाब से दिया जाएगा। पहले जो अलाउंस 8400 रुपए – 16,800 रुपए प्रति महीना दिया जाता था अब उसे बढ़ाकर 17,300 रुपए – 25,000 रुपए प्रति महीना कर दिया गया है।

8- डिफेंस के कर्मचारियों को दिए जाने वाले हायर क्वालिफिकेशन इंसेंटिव को भी बढ़ा दिया गया है। अभी तक यह अलाउंस 9000 रुपए – 30,000 रुपए था, जिसे अब बढ़ाकर 10,000 रुपए – 30,000 रुपए कर दिया गया है।

एसपीजी के लिए दर बढ़ाई

9- भारतीय नौसेना के अधिकारियों को दिए जाने वाले एयरोनॉटिकल अलाउंस का दायरा बढ़ा दिया गया है और इसमें इंडियन कोस्ट गार्ड को भी शामिल कर लिया गया है। इंडियन कोस्ट गार्ड को इसमें शामिल करने के अलावा अलाउंस को भी बढ़ाया गया है। पहले यह अलाउंस 300 रुपए प्रति महीना दिया जाता था, जो अब 450 रुपए प्रति महीना दिया जाएगा।

10- स्पेशल इंसिडेंट/इंवेस्टिगेशन/सिक्योरिटी अलाउंस की दर को भी बढ़ाया गया है। स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) को दिया जाने वाला अलाउंस ऑपरेशनल और नॉन ऑपरेशनल के लिए उनकी बेसिक पे का क्रमशः 55 फीसदी और 27.5 फीसदी हो गया है।

Source: OI

You might also like