देशभर में आज से उड़ान सेवा शुरू, जानिए अलग-अलग राज्यों में क्या हैं क्वारंटीन के नियम

पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश को छोड़कर पूरे देश में आज से हवाई उड़ान सेवा फिर से शुरू हो रही है। केंद्र ने हवाई उड़ानों के लिए अपनी गाइडलाइन तय की हैं। साथ ही राज्यों को अलग से एंट्री प्रोटोकॉल बनाने की अनुमति दी है। जानिए, अलग-अलग राज्यों में क्वारंटीन में क्या नियम हैं-

देशभर में आज से उड़ान सेवा शुरू, जानिए अलग-अलग राज्यों में क्या हैं क्वारंटीन के नियम
नई दिल्ली
कोरोना वायरस लॉकडाउन (Lockdown 4.0) के 2 महीने बाद देश भर में आज हवाई उड़ान सेवा शुरू (Domestic Flight Resume) हो रही है। इसी के साथ केंद्र ने एक बार फिर स्पष्ट किया है कि सिर्फ बिना लक्षण वाले यात्रियों को ही उड़ान की अनुमति मिलेगी। अगर यात्रा के बाद पैसेंजर को कोरोना लक्षण दिखते हैं तो उसे जिला सर्विलांस अधिकारी या फिर नैशनल कॉल सेंटर में जानकारी देनी होगी। बाकी यात्रियों को खुद को 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन में रहना होगा।

सिर्फ इन मामलों में मिलेगी होम क्वारंटीन की इजाजत
केंद्र के अनुसार, 14 दिन के होम क्वारंटीन की इजाजत सिर्फ उन्हें विशेष मामलों में मिलेगी। जैसे कोई परेशानी, गर्भवती महिलाओं, परिवार की किसी की मौत, गंभीर बीमारी और 10 साल से कम उम्र के बच्चों के साथ यात्रा करने वाले पैरंट्स को ही होम क्वारंटीन की अनुमति होगी। इन यात्रियों को आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल अनिवार्य होगा।

केंद्र ने हवाई उड़ानों के लिए अपनी गाइडलाइन तय की हैं। साथ ही राज्यों को अलग से एंट्री प्रोटोकॉल बनाने की अनुमति दी है। एयरपोर्ट पर उतरने के बाद यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी। जानिए, अलग-अलग राज्यों में क्वारंटीन के लिए क्या नियम हैं-

महाराष्ट्र
महाराष्ट्र में मुंबई एयरपोर्ट अथॉरिटी यहां आने वाले यात्रियों को स्क्रीनिंग के बाद 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन में भेजेगा।

राजस्थान
राजस्थान में बुजुर्गों और कोरोना लक्षण वाले यात्रियों को 14 दिन के इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन में भेजा जाएगा, बाकी यात्रियों के लिए अभी निर्देश नहीं हैं।

गुजरात
गुजरात सरकार यात्रियों को आइसोलेशन के लिए दवाब नहीं डालेगी। यात्रियों को 14 दिन के लिए इंस्टिट्यूशनल सुविधा या घर पर क्वारंटीन पर रहने की अपील की जाएगी।

उत्तर प्रदेश
यूपी आने वाले यात्रियों को 14 दिन के लिए घर में रहना होगा। जो बिजनस विजिट पर आएंगे उन्हें इस दायरे से बाहर रखा गया है। उन्हें ठहरने वाली जगह की पूरी डीटेल देनी होगी। साथ ही वह 7 दिनों के लिए वहां रह सकेंगे।

उत्तराखंड
उत्तराखंड में यात्रियों को 10 दिन के लिए सरकारी फैसलिटी या होटल में रहना होगा। स्वास्थ्य अधिकारियों के राजी होने पर ही होम फैसिलिटी की इजाजत दी जाएगी।

पंजाब
इसी तरह पंजाब में 14 दिन का होम आइसोलेशन और हिमाचल प्रदेश में 14 दिन का इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन का आदेश है।

चंडीगढ़ और बिहार
चंडीगढ़ और बिहार में यात्रियों के लिए क्वारंटीन का कोई आदेश नहीं है।

हरियाणा
गुरुग्राम प्रशासन 14 दिन के होम आइसोलेशन की अपील करेगा।

जम्मू-कश्मीर
जम्मू-कश्मीर में बाहर से आने वाले यात्रियों को 4 दिन के लिए इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन में रहना होगा।

पश्चिम बंगाल
बंगाल में अभी क्वारंटीन को लेकर कोई स्पष्ट आदेश नहीं है। घरेलू उड़ाने 28 मई के बाद शुरू होगी।

ओडिशा
ओडिशा में प्रफेशनल्स, सरकारी ऑफिशल्स और बिजनसमैन अगर 72 घंटे में वापस लौट जाते हैं तो उन्हें क्वारंटीन से छूट है। दूसरों को 14 दिन के होम आइसोलेशन में रहना होगा।

झारखंड
झारखंड में सभी यात्रियों को 14 दिन के लिए होम आइसोलेशन में रहना होगा।

असम
असम में 7 दिन का इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन और 7 दिन तक होम आइसोलेशन में रहना होगा। जो उसी दिन वापस लौट जाएंगे उनके लिए क्वारंटीन का कोई आदेश नहीं है।

मिजोरम
मिजोरम में यात्रियों को तभी एंट्री की अनुमति होगी जब उनके पास राज्य के गृह विभाग से स्पेशल परमीशन का कार्ड होगा।

मध्य प्रदेश
मध्य प्रदेश में सिर्फ कोरोना लक्षण वाले मरीजों को 14 दिन के लिए इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन में रहना होगा।

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ आने वाले यात्रियों को 14 दिन के लिए होटल, सरकारी केंद्र या फिर घर में आइसोलेट रहना होगा।

केरल
केरल में यात्रियों को 14 दिन के होम आइसोलेशन में रहना होगा।

तमिलनाडु
तमिलनाडु में 14 दिन के लिए घर पर रहना होगा। जिनके पास घर में सुविधा नहीं है उन्हें इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन में रहना होगा।

कर्नाटक
कर्नाटक में महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, दिल्ली, राजस्थान और मध्य प्रदेश से आने वाले यात्रियों को 7 जिन के इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन और 7 दिन होम आइसोलेशन में रहना होगा। बाकी राज्यों से आने वालों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटी में रहना होगा। इसके अलावा यहां गर्भवती महिलाओं, 10 साल तक के बच्चों और 80 साल के बुजुर्ग और बीमार लोगों को इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन से छूट होगी।

आंध्र प्रदेश
आंध प्रदेश में 14 दिन के लिए घर पर या सरकारी केंद्र में आइसोलेट रहना होगा। यहां 26 मई से उड़ान शुरू होगी।

तेलंगाना
तेलंगाना में कोरोना लक्षण वाले यात्रियों को अस्पताल में रहना होगा, बाकी घर जा सकेंगे।

गोवा
गोवा में बिना कोविड-19 नेगेटिव सर्टिफिकेट वाले यात्रियों को पहले 2000 रुपये का टेस्ट कराना होगा। इसके बाद रिजल्ट आने तक गोम क्वारंटीन में रहना होगा। अगर वे पॉजिटिव पाए गए तो उन्हें अस्पताल में रहना होगा। जो लोग टेस्ट का खर्चा नहीं उठा सकते उन्हें 14 दिन के लिए होम आइसोलेशन में रहना होगा।

You might also like